DATA ENTRY KE LIYE KON SA COURSE KARE 2023

दोस्तों आज के इस लेख में हम बात केरगे data entry क्या है और डाटा एंट्री के लिए कोन-सा कोर्स करे इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारिया आपको इस artical के माध्यम से मिलने बाली है इसलिए आप इस artical को पूरा जरूर पढ़े तो चलिए जानते है।

Data entry किसे कहते है?

संस्थान या कार्यालय से जुड़ी जानकारी सभी प्रकार का data या सूचनाएं को data कहते है इन सूचनाओ को जब computer में डालते है या इनकी entry computer में करते है तो यूज़ data entry कहते है जो ब्यक्ति उस data को computer में डालने का काम करता है यूज़ डाटा entry ऑपरेटर कहा जाता है।

Data entry करने के लिए हमारे पास सिस्टम और keyword का होना बहुत जरूरी है इसमें मुख्य रूप से नोट pad , Ms Word , Ms एक्सेल , Ms Power Point etc में की जाती है।

Data entry बनने के लिये योग्यता।

Data entry के लिए आपका 10 /12th में पास होना बहुत जरूरी है इसके लिया आपको computer बेसिक और इंग्लिश का ज्ञान होना भी बहुत जरूरी है।

Data entry करने के लिये कोर्स।

Data entry के लिए बैसे तो market में बहुत सारे course अवेलेबल है में आपको आज तीन प्रमुख कोर्सस के बारे मे बताने बाला हु जिसे करने के बाद आप आसानी से data entry की job पा सकते है।

(1) – DCA COURSE

यह एक कंप्यूटर Diploma कोर्स है। इसका पूरा नाम डिप्लोमा In Computer एप्लीकेशन होता है। इसमें हमे कंप्यूटर से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी दी जाती है जिस्से हम computer करते समय आने बाली समस्यायों को हल कर सके।

DCA Course से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारिया।

1 – DCA course करने के लिए आपका 12th पास होना बहुत जरूरी है।

2 – DCA कोर्स की आब्दी एक साल की है और बात करें इसकी fee की तो इसकी फीस लगभग 8000-10000 तक होती है।

3 – इसमे आप डाटा एंट्री सीखते है,और इसमें इंग्लिश टाइपिंग और Hindi टाइपिंग भी सीखाई जाती है टाइपलिंग हमारी speed को बढ़ाने के लिए सीखाई जाती है ताकि हम अपना सभी काम जल्दी से जल्दी कर सके।

4 – इसमें आपको पत्रिका डिज़ाइन, शादी के कार्ड डिज़ाइन करना, कंपनी के LOGO डिज़ाइन कर और ग्राफ़िक डिजाइनिंग करना भी सिखाया जाता है।

5 – इस course में हमे एप्प बनाना , programm का code लिखना और (MS वर्ड , Ms एक्सेल , MS पावरपॉइंट , टैली , फोटोशॉप ) आदि के बारे में सिखाया जाता है।

6 – इसमें आपको Tally कोर्स कराया जाता है जो की accounts के काम के लिए बहुत जरूरी होता है।

7 – आप इस course को आप किसी प्राइवेट Computer इंस्टिट्यूट से कर सकते है।

8 – DCA में आपको अन्य subjects के बारे में भी जानकारी दी जाती है।

Basic computer नॉलेज , hardware एंड सॉफ्टवेयर , operating सिस्टम , MS दोस , Linux operating सिस्टम , माइक्रोसॉफ्ट word , माइक्रोसॉफ्ट excell , माइक्रोसॉफ्ट power पॉइंट , Database मैनेजमेंट , networking , इंटरनेट , आदि।

2 – COPA COURSE

COPA का फुल फॉर्म कंप्यूटर Operator and प्रोग्रामिंग Assistant होता है इस कोर्स को सरकारी ITI ( इंडस्ट्रियल Training इंस्टिट्यूट ) से कर सकते है। इसमे भी आपको बेसिक कंप्यूटर नॉलेज के बारे में जानकारी दी जाती है। जैसे डाटा एंट्री करना , डाटा मैनेजमेंट करना , ( Ms word , Ms Excel , Ms Powerpoint आदि में डाटा की एंट्री करना।

COPA COURSE से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारिया।

1 – Copa Course के लिए आपका 10th पास होना बहुत जरूरी है।

2 – Copa course की fee कम होनें के साथ साथ है यह govt ITI द्वारा करवाया जाता है इसकी फीस 2000-3000 तक होती है ।

3 – यह course एक साल का होता है और इस course के complete होने के बाद आपको इसका डिप्लोमा भी मिलता है।

4 – Copa में आपको इन सभी निम्न विषयो के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है।

  • Computer की बेसिक बातें
  • Data प्रविष्टि की अवधारणाएं
  • Computer hardware मूल बातें
  • Computer पर software इंस्टॉलेशन
  • कैसे एक निजी computer संचालित करते हैं
  • बुनियादी internet अवधारणाओं
  • उच्च सटीकता और fast Typing
  • Web Desining अवधारणाएँ
  • Networking अवधारणा
  • E-commerce और साइबर सुरक्षा
  • Java Scrept सीखना
  • Cyber cafe प्रबंधन
  • रोज़गार collection
  • Database प्रबंधन

3 – PGDCA COURSE

PGDCA का फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर Application होता है। इस course को करने के लिए आपका ग्रेजुएट होना बहुत जरूरी है यह कोर्स 1 साल का है इसकी फीस लगभग 10000-15000 है।

किसी भी प्राइवेट कंप्यूटर इंस्टिट्यूट से आप इस कोर्स को आसानी से कर सकते है। आपको इसमें बेसिक कंप्यूटर के साथ-साथ और भी बहुत सारी लैंग्वेज के बारे में पढ़ाया जाता है

जैसे प्रोग्रामिंग Language , c , c ++ , , पाइथन लैंग्वेज , जावा लैंग्वेज , HTML लेनागुज , अलगोढ़थम , Web Development , , अरें आदि के बारे के पढ़ाया जाता है।

अगर DCA और COPA course की बात करें तो इसके मुकाबले में PGDCA course को ज्यादा इम्पोर्टेंस दी जाती है।

Conclusion

दोस्तों आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी data entry ke liye kon sa course kare जानकारी kaise लगी हमे commnet section में जरूर और जानकारी अच्छी लगने पर अन्य लोगो के साथ शेयर जरूर करे।

Leave a Comment